सफलता के निश्चित नियम होते हैं

सफलता के निश्चित नियम होते हैं– सफलता के  लिए केवल  तीन चीजें जरुरी हैं। सबसे पहले तो तय करें की आप जीवन में सचमुच क्या चाहते हैं दूसरी यह तय करें की  आप अपनी मनचाही चीजों को प्राप्त करने के लिए  कीमत चुकाने लिए तैयार...
Continue reading »

बुनियादी डर के छह भूतों को हरा दें

बुनियादी डर –छठी इंद्री  कभी काम नहीं करेगी ,जब तक की इन तीन – अनिर्णय ,शंका और डर ,नकरात्मक चीजों में से एक भी आपके  रहेगी।  इन सूक्ष्म शत्रुओं की आदतों से धोखा न खाएं कई बार वे अवचेतन मन छिपे रहते हैं जहाँ उनका...
Continue reading »

प्रॉस्पेक्ट्स -प्रोस्पेक्टिंग की प्रक्रिया

प्रोस्पेक्टिंग की प्रक्रिया  प्रॉस्पेक्ट्स का विचारमग्नता तोड़ें  – आपकी निति यह होनी चाइये की आप सामने वाले की विचारमग्नता तोड़ दें। आप जिस से भी संपर्क करते हैं ,वह व्यस्त है और दूसरी  में सोंच रहा है। वह पूरी तरह से अपने काम-काज ,खुद की...
Continue reading »

चिंताजनक स्थितियों को सुलझाने का जादुई फार्मूला –

चिंताजनक स्थितियों को सुलझाने का जादुई फार्मूला – क्या आप चिंताजनक स्थितियों का  फार्मूला जानना चाहते हैं ,तो तत्काल काम करें -एक ऐसा  उपाय जिसे आप अभी आजमा सकते हैं ,जिसे आप आगे ध्यान से  करें।  तीन कदम जो आपके चिंता को दूर करने के...
Continue reading »

जादुई सीढ़ी -सफलता के जादुई सीढ़ी के 16 पायदान –

जादुई सीढ़ी -सफलता के जादुई सीढ़ी में कोई ऐसी बात तो जरूर है जिसे शब्दों में नहीं कहा जा सकता है। लेकिन इसे पढ़ने वाले सभी लोग ,चाहे वो आमिर हों या गरीब सभी आकर्षित होते ही हैं।  शक्ति सच्ची शिक्षा से मिलती है !...
Continue reading »

•हर लीडर को चरित्र के बारे में कौन सी बातें मालूम होनी चाहिए

••1 . चरित्र सिर्फ शब्दों से नहीं बनता है– कोई भी खुद को ईमानदार कह सकता है ,लेकिन कार्य ही चरित्र के वास्तविक सूचक होते हैं आपका चरित्र ही तय करता है की आप क्या दरअसल कौन है ? इसी बात से तय होता है की आप क्या...
Continue reading »

सर्वश्रेष्ठ बनें

सर्वश्रेष्ठ बनें
सफलता के लिए सर्वश्रेष्ठ बनें। खुद को आजीवन विकास और व्यक्तिगत उत्क्रिस्टता  प्रति समर्पित।  इसमें जबरदस्त समर्पण ,आत्म -अनुसासन और इक्षाशक्ति की जरुरत होती है। जब भी आप हर बार नया सीखते हैं और उसपर अमल करते हैं ,तो हर बार आपको शक्तिशाली बनने का अहसास...
Continue reading »

प्रेरणा – FOR DAILY MORNING

प्रेरणा - FOR DAILY MORNING
प्रेरणा  लोग अकसर कहते हैं की प्रेरणा कायम नहीं रहती। देखिये ,स्नान भी नहीं रहता -इसलिए हम प्रतिदिन करने की सलाह देते हैं।   – जिग जिग्लर।  प्रोत्साहन अकेले ही काफी नहीं है। अगर आपके पास एक मुर्ख है और आप उसे प्रोत्साहित  देते हैं ,तो...
Continue reading »

खुशहाल वैवाहिक जीवन के अचूक नुस्खे

खुशहाल वैवाहिक जीवन के अचूक नुस्खे -ये नुस्खे आजमाएं हुए हैं और अचूक हैं।  प्रत्येक दिन का आरम्भ और समापन अपने जीवनसाथी के लिए प्यार की घोषणा से करें  संभव हो सके तो बस बात करने  और अपने प्यार को व्यक्त करने के तीन मिनट...
Continue reading »

सेल्स लाइन में ग्राहक को राजी कैसे करें ?

सेल्स की दुनिया में सबसे अहम् सवाल यही है : आप ग्राहक को राजी कैसे करें ? जवाब है आप ग्राहक के किसी सवाल पूछने पर उसका जवाब न देकर बदले उस सवाल के सवाल पूछकर राजी कर सकते हैं।  आपमें जिन लोगों ने भी...
Continue reading »

बिक्री में सफलता

बिक्री में सफलता कैसे प्राप्त करें ?-बिक्री करते समय मिनटों का अभ्यास करें। यह सिद्धांत कहता है की यदि आप ग्राहकों के साथ कुछ मिनट रहकर पैसे कमा रहे हैं तो इस काम में ज्यादा समय या मिनट लगाकर आप अपनी बिक्री बढ़ा सकते हैं। ...
Continue reading »

आत्म- अनुसासन और लगन

आत्म- अनुसासन और लगन – लगन सक्रीय आत्म-अनुसासन है। जीवन में कोई फर्क नहीं पड़ता है आप कितनी बार निचे गिरते हैं। सारा फर्क तो इस बात से पड़ता है की आप कितनी बार उठकर दोबारा खड़े होते हैं। अगर आप किसी काम में आत्म-...
Continue reading »

मन गांठें खोलो

मन गांठें खोलो-hindi story
आज के पोस्ट में एक शानदार कहानी जो की मैंने सूर्या सिन्हा के किताब कहानी बोलती है से लिया है ,कहानी का शीर्षक है – मन  गांठें खोलो मन  गांठें खोलो -पुराने ज़माने की बात है। एक व्यापारी ऊंटों पर सामान लादकर शहर-शहर जाता और...
Continue reading »

बाज का बच्चा

एक घने जंगल में एक बार एक बाज का अंडा किसी तरह जंगली मुर्गी के अण्डों के बिच चला गया और बाकि बाकि अण्डों के साथ मिला गया ,चूँकि अंडे तो सभी सामान होते हैं क्या मुर्गी और क्या बाज।  जैसे मुर्गी अपने अन्य अंडे का...
Continue reading »

तथास्तु -परमात्मा का पावरफुल शब्द

तथास्तु -परमात्मा का पावरफुल शब्द
आप शांति से विचार करेंगे तो ख्याल आएगा की आप आज जिस परिस्थिति में जी रहे हों उसमें कहीं ना कहीं ईश्वर का पावरफुल शब्द का इस्तेमाल आपने जाने या अनजाने में करवाया है – तथास्तु !ऐसा आपको काफी समय से से लग रहा था।...
Continue reading »

Translate »