जोश में असीम ताक़त है

excitment

जोश में असीम ताक़त है-जोश संक्रामक होता है यदि आप जोश में रहेंगे तो आपके आस-पास रहने वाले भी जोशिले बने रहेंगे और आपकी टीम में भी जोश भरा रहेगा । जोश उपलब्धि की दिशा में पहला क़दम है । जोश आपकी इक्षाशक्ति को बढ़ाती है । जोश आपको बदल देता है । जोश असम्भव को सम्भव बना देता है ।जोश में असीम ताक़त है ।

क्या आपके जीवन में पर्याप्त जोश है ? क्या आप सुबह जागते वक़्त आने वाले दिन के बारे में उत्साह से भरपूर होते हैं ? क्या सप्ताह का पहला दिन आपको विशेष प्रिय है ? या फिर आप वीकएंड्ज़ में ही जीते हैं और बाक़ी दिनो अर्ध-निद्रा में काम करते हैं ? ज़रा बताएँ , किसी विचार को लेकर आप पिछली बार कब इतने ज़्यादा रोमांचित हुए थे की आपको रात भर नींद नहीं आइ थी ?

विसेसज्ञ यह पता लगाने के लिए बहुत समय ख़र्च करते हैं की लोग किस वजह से सफल होते हैं । इसके लिए वे अक्सर लोगों की डिग्रियाँ , बुद्धि , शिक्षा और बाक़ी चीज़ें देखते हैं । लेकिन शायद जोश से जितना फ़र्क़ पड़ता है , उतना किसी अन्य चीज़ से नहीं पड़ता है ।




जब तक आपके भीतर लौ जल ना रही हो , तबतक आप अपने संघठन में चिंगारी नहीं फैला सकते हैं ।

जोश को बड़ाने के लिए निम्न कार्य करें :-

* अपना तापमान नापें । आपमें अपने जीवन और काम-काज को लेकर कितना जोश है ? क्या यह सबको नज़र आता हैं ? निष्पक्ष मूल्याँकन के लिए अपने जीवनसाथी से अपने जीवन के जोश का स्तर के बारे में पूछें ।आप तब तक जोशिले नहीं बन सकते , जबतक आपको इस बात का यक़ीन नहीं होगा की जोश से ही आपके जीवन में फ़र्क़ पड़ता है ।

 

* अपने पहले प्रेम की ओर लौटें । कई लोग जीवन और परिस्थितियों को इस बात की अनुमति दे देते हैं की वे उन्हें पटरी से उतार दे । उस समय को याद करें कि जब आप बच्चे थे तब किस चीन से आपमें चाबी भर जाती थी ? आप घंटों कौन सा काम लगातार कर सकते थे ? उसी पुराने उत्साह को पाने की कोसिस करें ।

 

* जोशिले लोगों के साथ रहें । यह अतिशयोक्ति लगता है , लेकिन एक ही प्रवृति वाले लोग सचमुच एक साथ रहते हैं । अगर आपने अपनी आग खो दी है , तो आग सुलगाने वालों के आस-पास रहें । जोश संक्रमक होता है । ऐसे लोगों के साथ वक़्त गुज़रने का निश्चय करें , जो आपको संक्रमित कर सकते हैं ।

 

 

धन्यवाद दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आज का ये पोस्ट जोश में असीम ताक़त है पसंद आया होगा , आज का पोस्ट मैंने शानदार किताब ” लीडर के २१ अनिवार्य गुण ” से लिया जिसके लेखक हैं जॉन सी. मैक्स्वेल । दोस्तों कॉमेंट और शेयर करना ना भूलें ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *