पांचवीं आदत -पहले समझने की कोशिश करें,फिर समझे जाने की

आपका बहुत-बहुत स्वागत है KADVEPRAVACHAN.कॉम पर आज हम जानेंगे -पांचवीं आदत -पहले समझने की कोशिश करें,फिर समझे जाने की पांचवीं आदत बहुत शक्तिशाली है , क्यूंकि

यह आपके प्रभाव के वृत्त के ठीक बिच में परस्पर निर्भर स्थितयों में आपकी चिंता के वृत्त में बहुत सी बातें होती हैं -समस्याएँ , असहमतियाँ , परिस्थतियाँ ,दूसरे लोगों का व्यवहार।

आप इस आदत के कारण अपने परिवार ,ऑफिस ,बिज़नेस हर जगह अपना प्रभाव बढ़ा सकते हैं।

 

पांचवीं आदत को समझने से पहले आपको वृत्त के बारे में समझना चाहिए

पांचवीं आदत -पहले समझने की कोशिश करें,फिर समझे जाने की
पांचवीं आदत -पहले समझने की कोशिश करें,फिर समझे जाने की

एक चिंता का वृत्त होता और एक आपके प्रभाव और जब भी आप चिंता पर अपना फोकस करना आरम्भ कर देते हैं तो आपका प्रभाव वाला वृत्त छोटा हो जाता है

अगर आप अपनी ऊर्जा चिंता पर केंद्रित कर देते हैं तो आप अपनी ऊर्जा को नष्ट कर देते हैं,और बदले में आपको बहुत कम सकरात्मक परिणाम मिलते हैं।

परन्तु आप हमेसा पहले समझने की कोशिश कर सकते हैं। यह एक ऐसी चीज है जो आपके नियंत्रण के भीतर है ,और जैसे आप यह करते हैं आप अपने प्रभाव के वृत्त को बढ़ा लेते हैं।

 

 

 

 

पहले समझने की कोशिश करें। इससे पहले की समस्याएँ उभरकर खड़ी हों  

अपने जीवनसाथी को समझने के लिए –

अपने जीवनसाथी के साथ नियमित रूप से बाहर जाएँ ,

साथ में डिनर करें

एक-दूसरे की बातों को ध्यान से सुनें

जीवन को एक-दूसरे की नजरों से देखने की कोसिस करें

 

बिज़नेस में इसका प्रयोग-

बिज़नेस में आप आप अपने कर्मचारियों से एक-एक करके चर्चा कर सकते हैं। उसकी बात सुनें ;उन्हें समझें।

अपने बिज़नेस में हर स्तर पर-ग्राहकों से,सप्प्लायर्स से और कर्मचारियों से सटीक फीडबैक पाने के लिए जिम्मेदारी का तंत्र विकसित करें

,जिसका सीधा मतलब है आप अपना प्रभाव बढ़ाना चाहते हैं तो चिंता पर फोकस करना बंद कीजिये।

परानुभूति जतायें –

दबाव ना डालें ,धैर्य रखें। सम्मान करें। यह जरुरी नहीं की लोगों के शाब्दिक रूप से खुलने के बाद परानुभूति जतायें। आप उनके व्यवहार के प्रति परानुभूति दिखा सकते हैं।

अगर आप अत्यंत प्रोएक्टिव हैं,तो आप रोकथाम करने के अवसर उत्पन्न कर सकते हैं। समझने के समय बिताएं।

पांचवीं आदत -पहले समझने की कोशिश करें,फिर समझे जाने की

 

RELATED POST-

अति प्रभावकारी लोगों की 7 आदत

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *