भौंरा की कहानी

भौंरा की कहानी साबित कर देगी क़ुदरत ने लाख कमियाँ हमारे अंदर दी हैं बावजूद उसके सफल हो सकते हैं । कुदरत ने भी हमारा हौसले को बढ़ाने के लिए हमारे आस-पास बहुत से क्लू छोड़ें जिस से हम प्रेरणा पाकर हम जिंदगी में आगे बढ़ सकें और सफल हो सकें।

ये बात आप भी जानते हैं हम इंसान न ही पंछी की उड़ सकते हैं ना ही चीते की स्पीड से दौड़ सकते हैं ना ही बाघ की तरह ताकतवर हैं फिर भी इंसान आज अपने दिमाग की वजह से कई हजार की स्पीड से उड़ सकता है बाघ की तरह ताकतवर तो नहीं लेकिन इतना ताकत है की वो पहाड़ का सीना चीर के वो अपने लिए रास्ता तैयार कर सकता है।

हमेशा याद रखें आप कर सकते हैं जो चाहे , आप सफल होने के लिए ही बने हैं।

 

आप में सारे वो गुण मौजूद हैं जो सफल लोगों में होता है बस आपको उस समय अपने आपको सफल मानना होगा जब दुनिया आप पर विस्वास नहीं कर रही हो।

भौरें की कहानी

भौंरा

हमे कुदरत  से  सिखने की जरुरत है। बैज्ञानिकों के मुताबिक भौरें का सरीर काफी भरी है और उड़ने के लिहाज से पंखों का फैलाओ काफी काम होता है। उड़ान के नियम के अनुसार , भौरां कभी उड़ नहीं सकता लेकिन उसको इस बात की खबर नहीं है और वह उड़ता रहता है।


लेकिन आप समझने की कोसिस करें जब आपको लोग प्रूफ देते हैं की आप सफल नहीं हो सकते हैं क्योँकि आपके अंदर कमियों का भण्डार है तो क्योँ हम उनकी बात को मान लेते हैं ?

आप भी भौरें की जैसे ही उड़ सकते हैं आपके लिए खुला आसमान है कोई रोक नहीं सकता है आपको। वो जो आपको अभी गलत साबित करने की कोसिस कर रहा है वो खुद जब आप कल सफल हो जायेंगे तो आपको सलाम करेंगें।

 

उम्मीद है आपको मेरा आज का यह पोस्ट भौंरा की कहानीपसंद  आया होगा तो प्लीज अगर आपको अच्छा लगा हो तो शेयर करना न भूलें।

धन्यवाद दोस्तों।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *