मुट्ठी में तक़दीर

मुट्ठी में तक़दीर
मुट्ठी में तक़दीर

यह प्रेरक उद्धरण मैंने लिया रॉबिन शर्मा जी के शानदार किताब मुट्ठी में तक़दीर ( THE MASTER MANUAL ) व्यक्तिगत तथा पेशेवर महानता के जीवन बदल देने वाली मारदर्शिका-

मुट्ठी में तक़दीर-

आप जब यह किताब अपडेंगे तो सच में आपको अहसास हो जायेगा की आपकी तक़दीर आपकी मुट्ठी में हैं।

 

पृथ्वी पर कोई वेवजह लोग नहीं हैं,इससे मेरा मतलब यह है की हम में से हरएक व्यक्ति जो यहाँ एक वजह और खास मिसन से है।

-रॉबिन शर्मा

आप पानी में गिरने से नहीं डूबता ,आप उसी में रह जाने की वजह से डूबता हैं।

-एडविन लुइस कोल।

 

एक बड़ी पहाड़ी पर चढ़ने के बाद एक व्यक्ति हमेशा यह पाता है की चढ़ने को और भी कई पहाड़ियां बाकि हैं। मैं विश्राम के लिए एक पल रुका हूँ,ताकि मैं अपनी चारों ओर फैली शानदार  द्रिश्यवाली की एक झलक ले सकूँ और अपने द्वारा अब तक तय की गई दुरी पर नजर फेर सकूँ। किन्तु मैं केवल एक पल ही रुक सकता हूँ,क्यूंकि आजादी के साथ जिम्मेदारियां भी आती हैं। मैं रुके रहने की जोखिम नहीं ले सकता,क्यूंकि ,मेरा लम्बा सफर अभी सम्पत नहीं हुआ है। 

-नेल्सन मंडेला। 



जितना तेज चमकना आपकी नियति रही है,यदि आप उतनी तेजी से नहीं ,चमक सकते,तो आप न केवल खुद के साथ विश्वासघात करते हैं,बल्कि दुनिया को कमतर छोड़ देते हैं,जितनी यह  हो सकती थी। 

-रोबिन शर्मा। 

बेहतर जानकारी के साथ आप बेहतर विकल्प चुन सकते हैं और जब बेहतर विकल्प चुनेंगे ,तो बेहतर नतीजे दिखेंगे।

-रॉबिन शर्मा

 

एक अर्थहिन, लक्ष्यहीन तथा उद्देश्य्हीन जीवन जीने को सहमत होने जैसा अक्षम्य और कुछ नहीं होता। 

-हेलन केलर। 

आप यह जान लें की जोखिम हमेशा फायदेमंद होती है। आप यह जान लेते हैं की क्या करना है और क्या नहीं। 

– जोनस साल्क।

RELATED POST 

शिखर तक पहुँचने के सात क़दम

The Leader Who Had No Title

 

जो व्यक्ति सबकुछ हासिल करने की कोसिस करता है ,वह  हासिल नहीं करता। 

 – रोबिन शर्मा। 

हम जो पाते हैं ,उससे अपनी जीविका चलाते हैं ; हम जो देते हैं,उससे अपना जीवन बनाते हैं। 

– सर विंस्टन चर्चिल। 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *