प्रभावशाली व्यक्तित्व की कला

लोक  व्यवहार- प्रभावशाली व्यक्तित्व की कला -दिलचस्प शैली और सरल भाषा में अंतरास्ट्रीय बेस्टसेलिंग लेखक डेल कारनेगी प्रैक्टिकल सलाह देते हैं और लोगों को प्रभावित करने के आजमाए हुए अचूक तरीके बताते हैं जिन पर अमल करने के बाद आपका जीवन पहले से अधिक सुखद और संपन्न हो जायेगा। 

 

 

यह पुस्तक आपके लिए आठ काम करेगी –

 

1 – आपके दिमाग पर लगी जंग साफ़ करेगी ,नए विचार देगी ,आपमें नए सपने जगाएगी और नई महत्वकांछाओं को प्रेरणा देगी। 

2 -आपको ऐसा तरीका बतएगी जिससे आप जल्दी से और आसान दोस्त बना सकेंगें। 

3 -आपकी लोकप्रियता बढ़ाएगी। 

4 – लोगों से आपकी बात मनवाने में मदद करेगी। 

5 आपका मान -सम्मान  प्रभाव को बढ़एगी और काम करने  और कराने की योग्यता बढ़एगी। 

6 – शिकायतों से निपटने ,बहस से बचने ,और संबंधों को मधुर बनाने के तरीके सिखयेगी। 

7 -एक अच्छा वक्ता और दिलचस्प बातें करने वाला बनाएगी। 

8 -आपके साथियों में उत्साह भरने का तरीका सिखयेगी। 

इस पुस्तक ने छत्तीस से भी ज्यादा भाषाओं में एक करोड़ से भी ज्यादा पाठकों के लिए काम किया है। 

लोक  व्यवहार- प्रभावशाली व्यक्तित्व की कला पुस्तक में  सिद्धांत दिए गए हैं 

 

खंड एक 

लोगों को प्रभावित करने के मूलभूत तरीके 

अगर शहद इकठ्ठा करना हो –तो मधुमक्खी के छत्ते पर लात न मारें 

 

सिद्धांत -1 

बुराई मत करो ,निंदा मत करो ,शिकायत मत करो –लोगों के साथ व्यवहार करने का अचूक रहस्य  

 

सिद्धांत -2 

सच्ची तारीफ करने की आदत डालें –जो यह कर सकता है उसके साथ पूरी दुनिया है 

 

सिद्धांत -3 

सामने वाले व्यक्ति में प्रबल इच्छा जगाएं। 


खंड दो 

 

लोगों का चहेता बनने के  छह तरीके –

 

हर जगह अपना स्वागत कैसे कराएं 

 सिद्धांत -1 दूसरे लोगों में में सचमुच रूचि लें – तत्काल प्रभावित करने का आसान तरीका 

 

तत्काल प्रभावित करने का आसान तरीका

 सिद्धांत -2 मुस्कुराएं 

 

अगर आप यह नहीं कर सकते हैं तो मुश्किल में हैं 

सिद्धांत -3 –याद रखें किसी व्यक्ति का नाम सबसे महत्वपूर्ण और मधुरतम शब्द होता है। 

 

अच्छा वक्ता बनने का आसान तरीका 

सिद्धांत -4 अच्छे श्रोता बनें। दूसरों को खुद के बारे में बातें करने के लिए प्रोत्साहित करें। 

 

लोगों की दिलचस्पी कैसे जगाएं 

सिद्धांत -5  सामने वाले व्यक्ति की रूचि के विषय में बात करें। 

 

किस तरह लोगों को तत्काल आकर्षित करें 

सिद्धांत -6 सामने वाले व्यक्ति को महत्वपूर्ण कराएं -और ईमानदारी से कराएं। 

 

खंड तीन 

लोगों से अपनी बात कैसे मानवाएँ 

बहस से कोई फायदा नहीं होता 

सिद्धांत -1 बहस से एक ही फायदा हो सकता है और वह है इससे बचना। 

 

दुश्मन बनाने का अचूक तरीका – और इससे कैसे बचा जाये 

सिद्धांत -2 दूसरे व्यक्ति के विचारों के प्रति सम्मान दिखाएँ। 

 

यह कभी न कहें की ,आप गलत हैं अगर गलती आपकी हो ,तो मान लें 

सिद्धांत -3  अगर गलती आपकी हो ,तो तत्काल और पूरी तरह अपनी गलती मान लें। 

याद रखें लिंकन ने क्या कहा था :एक गैलन सिरके के बजाय शहद की एक बूँद से ज्यादा मक्खियाँ पकड़ी जा सकती है। 

 

सिद्धांत -4 दोस्ताना तरीके से शुरुआत करें। 

 

सुकरात का रहस्य 

सिद्धांत-5 सामने वाले व्यक्ति से तत्काल हाँ ,हाँ  कहलवाएं। 

 

शिकयतों से निपटने का आसान तरीका 

 

सिद्धांत-6 सामने वाले व्यक्ति को ज्यादा बातें करने दें। 

 

सहयोग हासिल कैसे किया जाए 

सिद्धांत-7  दूसरों व्यक्ति को यह लगने दें की यह विचार उसी का है।

 

एक फार्मूला जो आपके लिए चमत्कार कर दे 

 

सिद्धांत -8 ईमानदारी  सामने वाले व्यक्ति का नजरिया समझने की कोशिस करें। 

 

लोग क्या चाहतें है ?

सिद्धांत -9 सामने वाले व्यक्ति के विचरों और इच्छाओं के प्रति सहानभूति पर्दर्शित करें। 

 

हर व्यक्ति यह आग्रह पसंद करता है 

 

सिद्धांत -10 आदरसवादी सिद्धांतों का सहारा लें। 

 

फिल्मों और टीवी में यह होता है ,आपसे क्यों नहीं ?

सिद्धांत-11 अपने विचारों को नाटकीय तरीके से प्रस्तुत करें। 

 

जब कुछ और काम न आए तो यह करें 

 

सिद्धांत-12 चुनौती दें। 

 

खंड चार 

 

ठेस पहुंचाए बिना लोगों को कैसे बदलें 

 

अगर गलती ढूंढनी है तो ऐसे ढूंढे

 

सिद्धांत -1 

तारीफ और सच्ची प्रंशंसा से बात शुरू करें।आलोचना करें , पर ऐसे की सब आपकी तारीफ करें 

 

सिद्धांत -2 

 

लोगों की गलतियां सीधे तरीके से न बताएं-पहले अपनी गलतियां बताएं 

 

सिद्धांत -3 

 

किसी की आलोचना करने से पहले अपनी गलतियां बताएं। कोई नहीं चाहता की आप उस पर हुक्म चलाएं 

 

सिद्धांत -4 

 

सीधे आदेश देने के बजाय –प्रश्न पूछें –सामने वाले व्यक्ति को अपनी लाज रखने दें 

 

सिद्धांत -5 

सामने वाले व्यक्ति को अपनी लाज रखने दें –सफलता के लिए लोगों को प्रेरित करने की विधि 

 

सिद्धांत -6

 

थोड़े से सुधार की भी तारीफ करें और हर सुधार पर तारीफ करें। दिल खोल कर तारीफ करें और

 मुक्त कंठ से सराहना करें बुरे को भला नाम दे दें 

 

सिद्धांत -7 

 

सामने वाले व्यक्ति को एक ऐसी इमेज दे दें ,जिसे वह सही साबित करना चाहे। गलती सुधारना आसान लगना चाहिए 

 

सिद्धांत -8 

 

प्रोत्साहित करें– यह बताएं की गलती सुधारना आसान है। वह तरीका जिससे लोग आपका काम खुशी खुशी कर दें

 

सिद्धांत -9 

सामने वाले व्यक्ति को कोई काम इस तरह सौंपे की वह आपका कहा काम खुशी-खुशी कर दे। 

 

 

RELATED POST

 

 10 मानसिक शक्ति के प्रभावशाली नियम

गीता श्लोक

 

 

लोक  व्यवहार- प्रभावशाली व्यक्तित्व की कला

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *