पंचतंत्र की कहानी -मेहमान भगवान होता है

मेहमान भगवान होता है- मंगलु  शिकारी बेचारा जंगल में अकेला खड़ा सोंच रहा था कि वह इस घने जंगल में अब किस से बातें करे कब तक अकेला खड़ा इधर-उधर पागलों भाँति जागता रहे ।      अकेलापन जब उसे सांप की भाँति डसने को...
Continue reading »

राजधर्म या पत्निधर्म

राजधर्म या पत्निधर्म एक कहानी है एक राजा की जो अपना राजधर्म को भूल कर पत्निधर्म में लग जाता है ।   राजा राम सिंह अपने समय के पराक्रमी राजा माने जाते थे । उनका विशाल राज्य समुद्र तट तक फैला हुआ था , उनकी वीरता...
Continue reading »

अंधा गिद्ध की कहानी

पंचतंत्र की कहानी अंधा गिद्ध की कहानी-एक पेड़ था जो कई पक्षियों का घर था। एक दिन एक अंधा गिद्ध वृक्ष के एक छेद में रहने आए। पक्षियों ने उसका स्वागत किया और उस  बूढ़े अंधे गिद्ध को अपना  भोजन का हिस्सा देने का फैसला...
Continue reading »

पंचतंत्र की कहानी अपमान आपका पीछा करती है

पंचतंत्र की कहानी आपका किया अपमान आपका पीछा करती है ।ये कहानी है दंतिल की ।   बहुत समय पहले की बात है एक शहर था जिसका नाम वर्धमान था, वहां पे एक अमीर  बिजनेसमैन रहा करता था उसका नाम दांतिल और उस राज्य का वो का मुखिया था...
Continue reading »

Translate »