गर्म पानी की थैरिपी

गर्म पानी की थैरिपी-

आज मैं एक समाचार चैनल देख रहा था जिसमें एक आर्मी के कर्नल रैंक अधिकारी बता रहे थे उन्होंने गर्म पानी की थैरिपी से 11 कोरोना वायरस से ग्रसित लोगों का उपचार किया है ऐसा नहीं है उन्हें दवाइयां नहीं दी गई थी पर वो कर्नल साहब बता रहे थे की गर्म पानी से ज्यादा असर हुआ ,

गर्म पानी का अनुभव कुछ ऐसा ही  है,मनो आपने सोना बाथ लिया हो। इससे शरीर की शुद्धि होती है,कैसे ?

तब मुझे यह पोस्ट लिखने का विचार आया जब गर्म पानी में इतना फायदा है तो क्यों और भी लोगों को इसके बारे में बताया जाये –

गर्म पानी का अनुभव कुछ ऐसा ही  है,मनो आपने सोना बाथ लिया हो। इससे शरीर की शुद्धि होती है,कैसे ? यह इस प्रकार से हमें मदद करता है –

जब आप गर्म पानी पीते हैं तो आपका शरीर का तापमान बढ़ जाता है।   

गर्म पानी का औसत तापमान 98.6  डिग्री फॉरेनहाइट तक बनाये रखने से आपके शरीर से पसीना छूटने लगता जो की आपको सोना बाथ का आनंद देता है। बॉडी पसीना निकलकर खुद को ठंढा करता है। 

गर्म पानी पिने से से नर्वस सिस्टम सही रहता है ,उसमें डिपॉज़िट भी खत्म होते हैं ,माना जाता है की ये डिपॉज़िट हमारे शरीर पर नकरात्मक प्रभाव डालता है। 

गर्म पानी पिने से आप अपने बॉडी और मन को शुद्ध कर सकते हैं। 

इससे शरीर के जोड़ ठीक रहते हैं,लचीलापन बना रहता है ,आपको जोड़ों में दर्द की शिकायत नहीं होगी। 

आपका वजन भी कम करने में सहायक होता है ,सहन शक्ति बढ़ता है। 

इससे मांशपेशियां की सूजन घटती है 

खुद की शुद्धि के लिए हर रोज गर्म पानी ही पिने कोसिस करें ,पानी इतना गर्म हो की पसीना छूटने ,पर आपका मुँह नहीं जलना चाहिए। शरीर अपना तापमान घटना पसीना छूटने लगेगा। जब पसीना आना बंद हो जाये फिर पानी पिने की कोसिस करें जिससे आपके शरीर का तापमान का संतुलन बना रहे। 

अगर आप बीमार हैं तो गर्म पानी आपके लिए दवा का काम करेगी। 

यदि आपको सादा गर्म पानी पिने का मन  है तो आप नीबू मिला लें। 

RELATED POST-

चंदन का इस्तेमाल

नेपोलियन की जीत का रहस्य 

प्रार्थना 

positive shareing
0Shares

चंदन का इस्तेमाल

चंदन का इस्तेमाल -आज तनाव भरी जिंदगी और प्रदूषण त्वचा की रंगत चुरा लेता है। त्वचा बेजान हो जाता है इसके लिए चंदन का इस्तेमाल सुरु करें।


चंदन का इस्तेमाल क्यों करें ?

चंदन से ना केवल  रंगत निखार सकते हैं बल्कि कील-मुहांसे ,आंखों के निचे काळा घेरे के समस्याओं से भी छुटकारा प् सकते हैं। चंदन के इस्तेमाल  चेहरे पर निखार आता है।

आयुर्वेद चन्दन को बेहतरीन सौंदर्य उत्पाद माना गया है। आप चन्दन का लेप लगा कर गर्मी की झुलसी त्वचा तथा खाना बनाते समय जल जाने पर बहुत आराम देता है चंदन का प्रयोग।

चंदन में एंटीबॉयटिक तत्व पाए  जाते हैं जो त्वचा को बिभिन्न प्रकार के संक्रमण से बचाता है। फोड़े-फुंसी पर चन्दन का लेप लगाने से जल्दी ठीक हो जाते हैं।




ऐसे करें चंदन का इस्तेमाल 

 

    • एक बड़े चम्मच के एसेंशियल ऑइल में चुटकी भर हल्दी और कपूर मिलाएं इस लेप को अपने चेहरे पर लगा कर रात भर छोड़ दें। इसके नियमित इस्तेमाल से रूखी-सुखी  त्वचा ,एक्ने का दाग, और ब्लैकहेड्स के समस्या से छुटकारा मिल जाता है। 

    • एक बड़े चम्मच चंदन पाउडर में छोटा चम्मच नारियल का तेल और थोड़ा सा निम्बू का रस मिलकर लेप बना लें। इसे अपने चेहरे पर आधे घंटे के लिए छोड़ दें कर गुनगुने पानी से  चेहरे को धो लें। इस लेप इस्तेमाल से आपको एक्ने के प्रॉब्लम से बहुत आराम मिलेगा। 

    • चंदन के तेल को अपने चेहरे पर लगा कर हाथों से मालिश करें फिर रात भर  छोड़ दें। सुबह गुनगुने पानी से चेहरे को साफ कर लें। इससे आपका चेहरा चमकदार और त्वचा मुलायम हो जायेगा।

    •  एक चम्मच खीरे के रस में एक बड़ा चम्मच दही ,एक छोटा चम्मच निम्बू के रस की कुछ बून्द और एक बड़ा चम्मच चंदन  पाउडर का लेप मिलकर तैयार कर लें। इस लेप  चेहरे पर 15 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें और फिर अपने चेहरे को धो लें। इससे आपका चेहरे का रंगत निखरता है। 

    •  एक चम्मच चंदन पाउडर में गुलाब जल मिलकर लेप तैयार करें ,इस लेप को अपने चेहरे पर लगाकर आधे घंटे के लिए छोड़ दें और फिर ठन्डे पानी से धो लें। इस लेप के नियमित इस्तेमाल से आपके चेहरे का अतिरिक्त तेल खत्म हो जायेगा।

    • एक बड़े चम्मच चन्दन पाउडर में नारियल तेल को मिलकर लेप बना लें और इस लेप को अपने चेहरे पर लगाएं। इससे आपके चेहरे के काळा धब्बे समाप्त हो जायेंगे।

 

 

RELATED POST-

 

Natural beauty tips

how to remove holi colours

positive shareing
1Shares